हमी नवोदय हों Hum Nava Yug Ki Nayi Bharati | Navodaya Vidyalaya Theme Song

Hum Nava Yug Ki Nayi Bharati, Nayi Aarti is the prayer and theme song of Navodaya Vidyalaya Samiti and this song used to sing by the Navodaya students in the morning assembly in all Jawahar Navodaya Vidyalayas across India. Lyrics of the song are penned by Suresh Chandra Vatsyayan.


Audio curtsy of Abilngeorge.


Lyrics of Navodaya Song: 

हम नव युग की नयी भारती, नयी आरती 
हम नव युग की नयी भारती, नयी आरती 

हम स्वराज की रिचा नवल 
भारत की नवलय हों 
नव सूर्योदय, नव चंद्रोदय 
हमी नवोदय हों 

हम नव युग की नयी भारती नयी आरती 
हम नव युग की नयी भारती नयी आरती 

रंग जाति पद भेद रहित 
हम सबका एक भगवन हो
संतान हैं धरती माँ की हम 
धरती पूजा स्थान हो 
धरती पूजा स्थान हो 

पूजा के खिल रहे कमल दल 
हम भावजल में हों 
सर्वोदय के नव बसंत के, हमी नवोदय हों 

हम नव युग की नयी भारती नयी आरती 
हम नव युग की नयी भारती नयी आरती

मानव हैं हम हलचल हम
प्रकृति के पावन वेश में 
खिलें फलें हम में संस्कृति 
इस अपने भारत देश की
अपने भारत देश की 
हम हिमगिरि हम नदियाँ हम 
सागर की लहरें हों 
जीवन की मंगलमाटी के, हमीं नवोदय हों 

हम नव युग की नयी भारती नयी आरती 
हम नव युग की नयी भारती नयी आरती

हरी दूधिया क्रांति शांति के,
श्रम के बंदनवार हों 
भगीरथ हम धरती माँ के 
सुरम पहरेदार हों 
सुरम पहरेदार हों 
सत्य शिव सुन्दर की पहचान 
बनाएं जग में हम 
अंतरिक्ष के यान ज्ञान के, हमीं नवोदय हों 

हम नव युग की नयी भारती नयी आरती 
हम नव युग की नयी भारती नयी आरती 

हम स्वराज की रिचा नवल 
भारत की नवलय हों 
नव सूर्योदय नव चंद्रोदय 
हम ही नवोदय हों..  

हम नव युग की नयी भारती नयी आरती 
हम नव युग की नयी भारती नयी आरती 

हमी नवोदय हों.. हमी नवोदय हों.. हमी नवोदय हों.. 

Also See:
इतनी शक्ति हमें देना दाता
तेरी है जमीं, तेरा आसमां