facebook

जहाँ तुम हो Jahaan Tum Ho Hindi Lyrics – Shrey Singhal

Jahaan Tum Ho lyrics in Hindi sung by Shrey Singhal, lyrics penned by Abhendra Kumar Upadhyay
music composed by Shrey Singhal.

Song Title: Jahaan Tum Ho
Singer: Shrey Singhal
Lyrics: Abhendra Kumar Upadhyay
Music: Shrey Singhal
Music Label: T-Series

Jahaan Tum Ho Hindi Lyrics

[जहाँ तुम हो
वहीँ मैं हूँ
तेरे ना होने से
लगता है मैं क्यूँ हूँ] x 2

[तू ही मेरा कल है
तू ही मेरा आज] x 2

सुबह की करवटों सी जो है
शाम की हरकतों सी जो है
बात भी फुरसतों की जो है
वही तुम हो

जो आहट खुशियों के जलने की
जो राहत नींदों से मिलने की
जो आदत ख्वाबों के उड़ने की
वही तुम हो

[तू ही मेरा कल है
तू ही मेरा आज] x 2

मैं शायद हूँ
यकीन तुम हो
मेरे चेहरे पे ठहरी
इक हंसी तुम हो

तेरा मिलना यूँ रोजाना
लगे साँसों की आदत
तुमको दोहराना

[तू ही मेरा कल है
तू ही मेरा आज] x 2

हवायें तुझसे जो गुजरी हैं
मुझे वो सांसें बनके मिली हैं
ज़िन्दगी की तरह ठहरी है
देखो ना तुम..

कभी अलफ़ाज़ बनके मेरे
ज़रा होंठों पे यूँ रह लेना
मैं बोलूं और सुनाई देना
हमेशा तुम..

[तू ही मेरा कल है
तू ही मेरा आज] x 2

वो हो..