उड़ी उड़ी जाये UDI UDI JAYE Hindi lyrics – Raees


Udi Udi Jaye Hindi lyrics from movie Raees. The song is sung by Sukhwinder Singh, Bhoomi Trivedi & Karsan Sagathia, composed by Ram Sampath and lyrics are written by Javed Akhtar. Starring Shahrukh Khan and Mahira Khan.

Song title: Udi Udi jaye
Movie:Raees
Singers: Sukhwinder Singh, Bhoomi Trivedi & Karsan Sagathia
Lyrics: Javed Akhtar
Music: Ram Sampath
Music Label: Zee Music Company

Udi Udi Jaye Hindi Lyrics

अरे उड़ी उड़ी उड़ी.. उड़ी जाये..

उड़ी उड़ी जाये
उड़ी उड़ी जाये
दिल की पतंग देखो उड़ी उड़ी जाए
उड़ी उड़ी जाये
उड़ी उड़ी जाये
दिल की पतंग देखो उड़ी उड़ी जाए

कहने को तो खेल है ये तेरा मेरा साँझा
पर मेरा दिल है पतंग
और तेरी नज़र मांझा
मांझे से लिप्टी है पतंग
जुडी जुडी जाए

उड़ी उड़ी जाये
उड़ी उड़ी जाये
दिल की पतंग देखो उड़ी उड़ी जाए

[दो दिल उड़े, दो दिल उड़े
ऊँचे आसमानों में जुड़े..] x 2

मुझे कब था पता इसका
तेरे प्रेम का इक तारा
मन में यूँ पल पल बाजेगा

मुझे कब थी खबर इसकी
मेरे मन की सिंघासन पर तू
सदा को यूँ बिराजेगी

कोई भी कठिनाई हो
या कोई हो मज़बूरी
तेरे मेरे इक भी पल होवे नहीं दूरी

माझे से लिप्टी ये पतंग
जुडी जुडी जाए

उड़ी उड़ी जाये
उड़ी उड़ी जाये
दिल की पतंग देखो उड़ी उड़ी जाए

उड़ी उड़ी जाये
उड़ी उड़ी जाये
दिल की पतंग देखो उड़ी उड़ी जाए

[तारने तरलो मेलो जामयो
जामयो हेत नो होदो] x 2

हाले कोणी रामी लायी
हाले कोणी रामी लायी

[तारने तरलो मेलो जामयो
जामयो हेत नो होदो] x 2

मेरे जीवन के गल्ले में
तेरा प्यार ही तो मेरा धन है
तू है तो धनवान हूँ मैं

हो.. प्रेम के इस मोहल्ले में
मेरा घर तेरा ही तो ये मन है
की तेरी मेहमान हूँ मैं, हाँ

जैसे सुगंध फूल के संग
चाँद के संग किरण

जैसे रस्सा दारु के संग
बाम के संग रगन

माझे से लिप्टी ये पतंग
जुडी जुडी जाए

उड़ी उड़ी जाये
उड़ी उड़ी जाये
दिल की पतंग देखो उड़ी उड़ी जाए

ये जो पतंग है तेरे ही संग है
तेरी ही और देख मुड़ी मुड़ी जाए

दो दिल उड़े, दो दिल उड़े
ऊँचे आसमानों में जुड़े..
दो दिल उड़े, दो दिल उड़े
ऊँचे आसमानों में जुड़े..

अरे उड़ी उड़ी उड़ी.. उड़ी जाये..
उड़ी उड़ी जाये..

धिंगाना – मीका सिंह
ओ ज़ालिमा – अरिजीत सिंह
लैला मैं लैला ऐसी हूँ लैला

गाना: उड़ी उड़ी जाये
फिल्म: रईस
गायक: सुखविंदर सिंह, भूमि त्रिवेदी, कार्सन सागठिया
गीतकार: जावेद अख्तर
संगीत: राम संपत