इश्क फर्जी Ishq Farzi – Jannat Zubair

Ishq Farzi Lyrics

Ishq Farzi Lyrics in Hindi, sung by Jannat Zubair. The song is written by Kumaar and composed by Ramji Gulati. Starring Jannat Zubair, Rohan Mehra. Music Label Zee Music Company.

गाना: इश्क फर्जी
गायक: जन्नत जुबैर
गीतकार: कुमार
संगीतकार: रामजी गुलाटी




Ishq Farzi Lyrics


सोचा नहीं था मेरा हाथ छोड़ा जायेगा
बदलेगा राही मेरा साथ छोड़ जायेगा
हाथों पे तेरे मैंने रख दी थी जो
जाते जाते मुझे वो लकीरें मोड़ जायेगा

जाना है तो जा है तेरी मर्ज़ी
मान लुंगी था तेरा इश्क फर्जी
जाना है तो जा है तेरी मर्ज़ी
मान लुंगी था तेरा इश्क फर्जी

टुटा नहीं तूने वादा तोड़ा है
थोड़ा नहीं दिल ज्यादा तोड़ा है
टुटा नहीं तूने वादा तोड़ा है
थोड़ा नहीं दिल ज्यादा तोड़ा है

तू निकला मतलबी होने लगा मतलबी
जा देख ली तेरी खुदगर्जी
मान लुंगी था तेरा इश्क फर्जी

जाना है तो जा है तेरी मर्ज़ी
मान लुंगी था तेरा इश्क फर्जी
मान लुंगी था तेरा इश्क फर्जी



More Songs of Jannt Zubair:
चाल गज़ब है Chaal Gazab Hai
ज़रूरी है क्या इश्क़ में Zaroori Hai Kya Ishq Mein
तेरे बिन किवे Tere Bin Kive

Music Video of Ishq Farzi: