डायलॉग्स All Time Hit Evergreen Bollywood Dialogues in Hindi

We collected all time hit evergreen Bollywood dialogues for you that always blow your mind.

Read the most popular Bollywood dialogues written in Hindi font on Hinditracks:


From Movie Sholay (1975): Saleem-Javed’s dialogues from movie Sholay are Bollywood’s all time hits, specially dialogues delivered by Amjad Khan “Kitne Aadmi The??”

कितने आदमी थे ?? – गब्बर सिंह

होली कब है ? कब है होली ?? – गब्बर सिंह

अब तेरा क्या होगा कालीआ ?? – गब्बर सिंह

सुवर के बच्चों !!! – गब्बर सिंह

अब गोली खा। – गब्बर सिंह

बहुत याराना लगता है। – गब्बर सिंह

जो डर गया समझो मर गया। – गब्बर सिंह

इसकी सजा मिलेगी, बराबर मिलेगी। – गब्बर सिंह

कमीने मैं तेरा खून पी जाऊंगा। – बीरू

बसंती इन कुत्तों के सामने मत नाचना। – बीरू

तेरा नाम क्या है बसंती ? – जय

चल धन्नो आज तेरी बसंती की इज्जत का सवाल है। – बसंती

देखो, मुझे बेफुज़ूल बात करने की आदत तो है नहीं.. – बसंती

यूंकि.. ये कौन बोला !! ?? – बसंती

लोहा गरम है, मार दो हथौड़ा। – ठाकुर

ये हाथ नहीं, फँसी का फन्दा है। – ठाकुर

हम अंग्रेज़ के ज़माने के जेलर हैं.. हा हा.. – जेलर

Don (1978): Amitabh Bachchan’s dialogue from movie Don “Don ka intezaar to gyarah mulkon ki police kar rahi hai”.

डॉन का इंतज़ार तो ग्यारह मुल्कों की पुलिस कर रही है..

डॉन को पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है।

मुझे जंगली बिल्लियाँ पसंद हैं।

From Deewar (1975): Amitabh Bachchan famous dialogue from Deewar “Aaj mere paas gaadi hai, bangla hai, paisa hai.. tumhare paas kaya hai??” and Shashi Kapoor dialogue “Mere paas maa hai”

आज मेरे पास गाड़ी है, बांगला है, पैसा है, तुम्हारे पास क्या है ?

मेरे पास माँ है।

मैं आज भी फेंके हुए पैसे नहीं उठाता।

Sauten (1983): Prem chopra’s famous dialogue form sautan “Jinke ghar sheeshe ke hote hain, wo batti bujha ke kapde badalte hain”.

जिनके घर शीशे के होते हैं, वो बत्ती बुझा के कपडे बदलते हैं।

Yaadon Ki Baarat (1973): Dharmendra’s most famous dialogue form Yaadon Ki Baarat “Kutte, Kameene, main tera khoon pee jaunga”.

कुत्ते कमीने मैं तेरा ख़ून पी जाऊंगा।

Shahenshah (1988): Amitabh Bachchan dialogue form movie Shahenshah “Rishte mein to hum tumhare baap lagte hain, naam hai shahenshah”.

रिश्ते में तो हम तुम्हारे बाप लगते हैं। नाम है शहंशाह।

Kalicharan (1976): Ajit’s famous dialogue from movie Kalicharan “Saara shehar mujhe lion ke naamse janta hai”.

सारा सहर मुझे लायन के नाम से जानता है।

Devdas: Famous dialogue from Devdas movies by Dilip Kumar and Shahrukh Khan “Kaun kambakht bardaasht karne ko peeta hai? Main to peeta hoon ke bas saans le sakun”.

कौन कमबख्त बर्दाश्त को लिए पीता है ? मैं तो पीता हूँ कि बस सांस ले सकूं।

बाबूजी ने कहा गांव छोड़ दो, सब ने कहा पारो को छोड़ दो, पारो ने कहा शराब छोड़ दो, आज तुमने कह दिया हवेली छोड़ दो, एक दिन आएगा जब वो कहेंगे.. दुनिया ही छोड़ दो।

Dilwale Dulhaniya Le Jayenge (1995): Shahrukh Khan’s one of the famous dialogue form movie Dilwale Dulhaniya Le Jayenge “Bade bade deshon mein aisi chhoti chhoti baatein hoti rehti hain”.

बड़े बड़े देशों में ऐसी छोटी छटी बातें होती रहती हैं।

Karan Arjun (1995): Rakhi’s famous dialogue form movie Karan Arjun “Mere bete aayenge, Mere Karan Arjun aayenge, Zameen ki chhati phad ke aayenge, aasman ka seena cheer ke aayenge”.

मेरे बेटे आएंगे, मेरे कारन अर्जुन आएंगे, ज़मीन की छाती फाड़ के आएंगे, आसमान का सीना चीर के आएंगे।

Wanted (2009): Salman Khan’s dialogue from movie Wanted “Ek baar jo maine commitment kar di, uske baad to main khud ki bhi nahi sunta”.

एक बार जो मैंने कमिटमेंट कर दी, उसके बाद तो मैं ख़ुद की भी नहीं सुनता।

मैं सिर्फ मनी भाई के लिए काम करता हूँ।

Yeshwant (1997): Nana Patekar’s dialogue from movie Yeshwant “Ek machhar aadmi ko hijda bana deta hai”.

एक मच्छर आदमी को हिजड़ा बना देता है।

Rowdy Rathore (2012): Akshay Kumar’s dialogue form movie Rowdy Rathore “Main jo bolta hoon wo main karta hoon, aur main jo nahi bolta wo main definitely karta hoon”.

मैं जो बोलता हूँ वो मैं करता हूँ और मैं जो नहीं बोलता, वो मैं डेफिनेटली करता हूँ।

Don’t angry me!!

Damini (1993): Angry young man Sunny Deol’s one of the famous dialogue from movie damini “Taareekh pe taareekh milti rehti hai lekin insaaf nahi milta, milte hain to sifr taareekh”.

तारीख पे तारीख मिलती रहती है लेकिन इन्साफ नहीं मिलता। मिलते हैं तो सिर्फ तारीख।

3 Idiots (2009): Aamir Khan and others Dialogues from movie 3 Idiots.

Life is a race, if you don’t run fast.. you’ll be like a broken अंड़ा।

बच्चा क़ाबिल बनो, काबिल.. कामयाबी तो साली झक मारके पीछे भागेगी।

जहाँपना तुसी ग्रेट हो तोफो कबूल करो।

Aall izz well

Maine Pyar Kiya (1989): Salman Khan’s dialogue form movie Maine Pyar Kiya “Dosti ka ek usool hai madam.. no sorry, no thank you”.

दोस्ती का एक उसूल है मैडम: नो सॉरी, नो थैंक यू।

Bulandi (1981): Raj Kumar’s famous dialogue from movie Bulandi “Humko mita sake ye zamane mein dum nahin.. humse zamana khud hai, zamane se hum nahi”.

हमको मिटा सके ये ज़माने में दम नहीं, हमसे ज़माना खुद है, ज़माने से हम नहीं।

Chennai Express (2013): Shahrukh Khan’s dialogue from movie Chennai Express “Don’t underestimate the power of common man”.

Don’t underestimate the power of the common man.

Guru (2007): Abhishek Bachchan’s dialogue from movie Guru “Jab log tumhare khilaaf bolne lage.. samaj lo tarakki kar rahe ho”.

जब लोग तुम्हारे खिलाफ बोलने लगे.. समझ लो तरक्की कर रहे हो।

Munna Bhai MBBD and Lage Raho Munna Bhai: Famous dialogues from Munna Bhai and Circuit in Mumbaiya bhai tone.

एई मामू.. जादू की झप्पी दे ड़ाल और बात ख़तम।

लाइफ में जब टाइम कम रहता है ना, डबल जीने का, डबल।

बॉयफ्रेंड बोले तो !!!

अरे भाई अगर मैं हल चलाएगा तो बैल क्या करेगा ?

देश तो अपना हो गया है लेकिन लोग पराए हो गए हैं।

बोले तो गांधीगिरी ज़िंदाबाद।

अपुन के भेजे में साला केमिकल लोचा है।

अपुन के पास बापू है मामू।

जब दोनों गाल पे पड़े जाए तो क्या करनेका.. ये बापू ने नहीं कहा अपुन को !!

Taare Zameen Par (2007): Aamir Khan’s dialogue from Taare Zameen Par “Har bachche ki apni khoobi hoti hai, apni kaabiliyat hoti hai, apni chahat hoti hai”.

हर बच्चे की अपनी खूबी होती है, अपनी काबिलियत होती है, अपनी चाहत होती है।

Dabanng: Salman Khan and Sonakshi Sinha’s dialogues from movies Dabangg and Dabangg 2.

हम यहाँ के रॉबिनहुड हैं.. रॉबिनहुड पांडेय।

थप्पड़ से ड़र नहीं लगता साहब.. प्यार से लगता है।

भैया जी स्माइल..

स्वागत नहीं करोगे आप हमारा ?

वक़्त तुम्हारा ख़राब आया है और दिन हम गिने !!

Krantiveer (1994): Nana Patekar’s evergreen dialogues from movie Krantiveer.

आ गए मेरी मौत का तमाशा देखने..

ये मुसलमान का खून, ये हिन्दू का खून.. बता इस में मुसलमान का कौन सा ? हिन्दू का कौन सा ? बता ?

हम भले ही ऊपर वाले हो अलग-अलग नाम से पुकारते हैं, लेकिन हमारा धरम एक है, मज़हब एक है.. इंसानियत।

ऊपर वाला भी ऊपर से देखता होगा तो उसे शरम आती होगी, सोचता होगा मैंने सबसे खुबसूरत चीज़ बनाई थी, इंसान, इंसान.. नीचे देखा तो सब कीड़े बन गए.. कीड़े !!

साले अपने खुद के देश में एक सुई नहीं बना सकते.. और हमारा देश तोड़ने का सपना देखते हैं।

कुत्ते की तरह जीने की आदत पड़ी है सबको..

Om Shanti Om (2007): Shahrukh Khan’s dialogue from movie Om Shanti Om “Kehte hain agar kisi cheez ko dil se chaho to puri kainat use tumse milane ki koshish mein lag jati hai”.

कहते हैं अगर किसी चीज़ को दिल से चाहो तो पूरी कायनात उसे तुमसे मिलाने की कोशिश में लग जाती है।

इतनी शिद्दत से मैंने तुम्हें पाने की कोशिश की है कि हर ज़र्रे ने मुझे तुमसे मिलने की साज़िश की है।

पिक्चर तो अभी बाकी है मेरे दोस्त..

Mr. India (1987): Amrish Puri’s famous dialogue from movie Mr. India “Mogambo Khush Hua”.

मोगैम्बो खुश हुआ।

We love to here from you. Tell us in the comments which is your favorite Bollywood dialogue and which dialogue you wanted in this list.