बस में Bas Mein Lyrics in Hindi – Bhuvan Bam


Bas Mein Lyrics

Bas Mein Lyrics, sung, lyrics and music composed by Bhuvan Bam. Starring Sharmila Sharma, Bhuvan Bam.

गाना: बस में
गायक: भुवन बाम
गीतकार: भुवन बाम
संगीतकार: भुवन बाम

Bas Mein Lyrics in Hindi

यूं कांप कांपते तेरे होठ हैं
कुछ कहते कहते थम से गए
सिरहाने हाथ है, कोई तो बात है
टूट रहा है सबर

जगमग जगमग सी ये दीवार हैं
महक रहा है तेरा ये बदन
कुछ ऐसा खास है, कोई तो बात है
होने लगी है फिकर

वैसे तो तेरे दिल से जुड़ा हूँ
काँधे के तेरे तिल पे फिदा हूँ
मन के इरादों से भिड़ा हूँ
नहीं रहना अपने बस में

बस में, बस में, बस में
तू जो नहीं है अपनी हद में
हद में, हद में
नहीं रहना अपने अपने

बदल गया तेरा सारा मूड ये कैसे
बिगड़ गया तेरा attitude
जो मुझको घर की एंट्री
पीछे के दरवाजे से क्यूँ मिली
ऐसी भी क्या जल्दी थी बतला दे

टिप टिप टिप बारिशों की बूँदें हैं
शोर करे गरजती बिजलियाँ
गुम हो गयी क्यूँ होश-ओ-हवासें
होने लगी है तेरी फिकर

वैसे तो तेरे दिल से जुड़ा हूँ
कंधे के तेरे तिल पे फिदा हूँ
मन के इरादों से भिड़ा हूँ
नहीं रहना अपने बस में

बस में, बस में, बस में
तू जो नहीं है अपनी हद में
हद में, हद में
नहीं रहना अपने, अपने बस में

बस में, बस में, बस में
बस में नहीं रहना मुझे
बातों में ना कहना मुझे
की तू बड़ा, की तू बड़ा चेप है
हुस्न दी परी तू जादू वाली छड़ी
पर गुस्से में प्रोफेसर स्नेप है

अलग विचित्र सी विन्ची के चित्रा सी
पल्ले पड़े ना जैसे bond के मिस्ट्री सी
मिष्ठी सी बात है तू बोले बेबी
Take me to a party lorry in a बैलगाड़ी
किसी ने भी चल बोला नहीं कभी कल
कहते हैं मिलता है सबर का मीठा फल

पर just tell me
क्या है wrong क्या है हल
Cause I know this angel is my baby girl
सूंघ के बता दूं
जो है दिल में तेरे हलचल
पल पल गड़बड़
Can you feel the धक् धक्
Tell tell bloody hell what the hell
नहीं रहना अपने बस में

(बस में, बस में, बस में
तू जो नहीं है अपनी हद में
हद में, हद में
नहीं रहना अपने, अपने बस में) x 3


More songs of Bhuvan Bam:
Safar
Teri Meri Kahaani
Rahguzar
SANG HOON TERE