मनमोहन कान्हा Manmohan Kanha Lyrics in Hindi


Manmohan Kanha Lyrics

Manmohan Kanha Lyrics in Hindi. This is a traditional Krishna Bhakti song.

गाना: मनमोहन कान्हा / Manmohan Kanha Vinti Karun Din Rain
गीतकार: मीराबाई/ट्रेडिशनल

Manmohan Kanha Lyrics in Hindi

मनमोहन कान्हा विनती करूँ दिन रेन
मनमोहन कान्हा विनती करूँ दिन रेन
राह तके मेरे नैन
राह तके मेरे नैन
अब तो दरस दे दो कुञ्ज बिहारी
मनवा है बेचैन
मनमोहन कान्हा विनती करूँ दिन रेन
मनमोहन कान्हा विनती करूँ दिन रेन

प्रेम की डोरी तुम संग जोड़ी
हम से तो ना ही जाएगी तोड़ी
हे मुरली धर कृष्ण मुरारी
हे मुरली धर कृष्ण मुरारी
तनिक ना आवे चैन
राह तके मेरे नैन
राह तके मेरे नैन
अब तो दरस दे दो कुञ्ज बिहारी
मनवा है बेचैन
मनमोहन कान्हा विनती करूँ दिन रेन
मनमोहन कान्हा विनती करूँ दिन रेन

जन्म जन्म से पंथ निहारु
बोलो किस विध तुम को पुकारूँ
हे नटनागर हे गिरघारी
हे नटनागर हे गिरघारी
काह ना पावे वैर
राह तके मेरे नैन
राह तके मेरे नैन
अब तो दरस दे दो कुञ्ज बिहारी
मनवा है बेचैन
मनमोहन कान्हा विनती करूँ दिन रेन
मनमोहन कान्हा विनती करूँ दिन रेन

More Songs of Krishna Bhakti:
# कान्हा सो जा ज़रा Kanha Soja Zara – Baahubali 2
# कान्हा रे Kanha Re – Neeti Mohan
# ओ कान्हा अब तो मुरली – Yeh Rishta Kya Kehlata Hai
# मैं आरती तेरी गाऊं – Yeh Rishta Kya Kehlata Hai

Music Video Teaser of Manmohan Kanha: