फिर और क्या चाहिए Phir Aur Kya Chahiye Lyrics in Hindi – Arijit Singh

Phir Aur Kya Chahiye lyrics in Hindi from the movie Zara Hatke Zara Bachke sung by Arijit Singh. This song is written by Amitabh Bhattacharya and music composed by Sachin-Jigar. Featuring Vicky Kaushal and Sara Ali Khan.

Phir Aur Kya Chahiye Song Details

📌 Song Title Phir Aur Kya Chahiye
🎞️ Album Zara Hatke Zara Bachke (2023)
🎤 Singer Arijit Singh
✍️ Lyrics Amitabh Bhattacharya
🎼 Music Sachin-Jigar
🏷️ Music Label Saregama
▶︎ See music video of Phir Aur Kya Chahiye Song on Saregama YouTube channel for your reference and song details. Phir Aur Kya Chahiye Lyrics in Hindi

Phir Aur Kya Chahiye Lyrics in Hindi – Amitabh Bhattacharya



बदले तेरे माही
ला के जो कोई सारी
दुनिया भी दे दे अगर
तो किसे दुनिया चाहिए

तू है तो मुझे
फिर और क्या चाहिए
तू है तो मुझे
फिर और क्या चाहिए

किसी की ना मदद
ना दुआ चाहिए
तू है तो मुझे
फिर और क्या चाहिए

सुन हनिये जिंद जानिए
सौ बार जनम लू
तो भी तू ही
हमदम हर दफा चाहिए

तू है तो मुझे
फिर और क्या चाहिए
तू है तो मुझे
फिर और क्या चाहिए

तू ही रे तू ही रे
तू ही रे नी हीरिए
तू ही रे तू ही रे
तू ही रे नी हीरिए
तू मेरी मैं हूँ तेरा रांझा

तू ही रे तू ही रे
तू ही रे नी हीरिए
तू ही रे तू ही रे
तू ही रे नी हीरिए
तू मेरी मैं हूँ तेरा रांझा

हो जब तक तेरी नींद ना टूटे
उगता नहीं है सूरज मेरा
ख्वाब रहे किस काम के मेरे
ख्वाब से प्यारा तू सच मेरा

सुन हनिये जिंद जानिए
ज़ख्मों को मेरे मरहम की जगह
बस तेरा छूआ चाहिए

तू है तो मुझे
फिर और क्या चाहिए
तू है तो मुझे
फिर और क्या चाहिए

किसी की ना मदद
ना दुआ चाहिए
तू है तो मुझे
फिर और क्या चाहिए

तू ही रे तू ही रे
तू ही रे नी हीरिए
तू ही रे तू ही रे
तू ही रे नी हीरिए
तू मेरी मैं हूँ तेरा रांझा

बदले तेरे माही
ला के जो कोई सारी
दुनिया भी दे दे अगर
तो किसे दुनिया चाहिए

More Hindi Songs for You:
होना ही नहीं Hona Hi Nahi
माउंटेन पीक Mountain Peak
जहां पे दिल है Jahaan Pe Dil Hai
स्पोर्ट्स गड्डियाँ Sports Gaddiyan
माँ के दिल से Maa Ke Dil Se
कुछ इतने हसीन Kuch Itne Haseen
चुनरी में दाग Chunari Mein Daag
शुभो शुभो Shubho Shubho
बैरिया Bairiya

Phir Aur Kya Chahiye Lyrics in English

Badle tere maahi
La ke jo koi saari
Duniya bhi de de agar
Toh kise duniya chahiye

Tu hai toh mujhe
Phir aur kya chahiye
Tu hai toh mujhe
Phir aur kya chahiye

Kisi ki na madad
Na dua chahiye
Tu hai toh mujhe
Phir aur kya chahiye

Sun haniye jind janiye
Sau baar janam lu
Toh bhi tu hi
Humdum har dafa chahiye

Tu hai toh mujhe
Phir aur kya chahiye
Tu hai toh mujhe
Phir aur kya chahiye

Tu hi re tu hi re
Tu hi re ni heeriye
Tu hi re tu hi re
Tu hi re ni heeriye
Tu meri main hu tera ranjha

Tu hi re tu hi re
Tu hi re ni heeriye
Tu hi re tu hi re
Tu hi re ni heeriye
Tu meri main hu tera ranjha

Ho jab tak teri neend na toote
Ugta nahi hai suraj mera
Khwab rahe kis kaam ke mere
Khwab se pyara tu sach mera

Sun haniye jind janiye
Zakhmon ko mere marham ki jagah
Bas tera chua chahiye

Tu hai toh mujhe
Fir aur kya chahiye
Tu hai toh mujhe
Fir aur kya chahiye

Kisi ki na madad
Na dua chahiye
Tu hai toh mujhe
Phir aur kya chahiye

Tu hi re tu hi re
Tu hi re ni heeriye
Tu hi re tu hi re
Tu hi re ni heeriye
Tu meri main hu tera ranjha

Badle tere maahi
La ke jo koi saari
Duniya bhi de de agar
Kise duniya chahiye