कबीरा Kabira Lyrics in Hindi – Jubin Nautiyal


Kabira Lyrics in Hindi

Kabira Lyrics in Hindi sung by Jubin Nautiyal. These Kabir Ke Dohe lyrics are Traditional and music composed by Raaj Aashoo.

Kabira Song Details

Song Title: Kabira
Singer: Jubin Nautiyal
Lyrics: Traditional
Music: Raaj Aashoo
Label: T-Series



Kabira Lyrics in Hindi



गुरु गोविन्द दोउ खड़े
काके लगो पाय
गुरु गोविन्द दोउ खड़े
काके लगो पाय

बलिहारी गुरु आपने
गोविन्द दियो बताये
कबीरा गोविन्द दियो बताये

बड़ा हुआ तो क्या हुआ
जैसे पेड़ खजूर
बड़ा हुआ तो क्या हुआ
जैसे पेड़ खजूर

पंथी को छाया नहीं
फल लागे अति दूर कबीरा
फल लागे अति दूर

ऐसी वाणी बोलिए
मन का आप खोय
ऐसी वाणी बोलिए
मन का आप खोय

ओरन को शीतल करें
आप हूँ शीतल होए कबीरा
आप हूँ शीतल होए

जाती ना पूछो साधू की
पूछ लीजियो ज्ञान
जाती ना पूछो साधू की
पूछ लीजियो ज्ञान

मोल करो तलवार का
पड़ी रहन दो मयान कबीरा
पड़ी रहन दो मयान



ALSO SEE:
कबीरा Kabira 2
कबीर के दोहे अर्थ सहित Kabir Ke Dohe
लोकप्रिय गीता श्लोक अर्थ सहित Bhagwat Geeta Shlok

Music Video of Kabira:

More Jubin Nautiyal Songs:
रातां लम्बियां Raataan Lambiyan
तुम ही आना Tum Hi Aana
हमनवा मेरे Humnava Mere
आँख उठी मोहब्बत ने अंगडाई ली Lut Gaye
दिल गलती कर बैठा है Dil Galti Kar Baitha Hai
रिम झिम Rim Jhim
बरसात की धुन Barsaat Ki Dhun
मेरी ज़िन्दगी है तू Meri Zindagi Hai Tu
तारों के शहर Taaron Ke Shehar
दिल चाहते हो Dil Chahte Ho
मेरी आशिकी Meri Aashiqui 
एक मुलाक़ात Ek Mulaqat
बेवफ़ा तेरा मासूम चेहरा Bewafa Tera Masoom Chehra
चिट्ठी Chitthi
दिल चाहते हो Dil Chahte Ho
मेरी आशिकी Meri Aashiqui
तुझे भूलना तो चाहा Tujhe Bhoolna Toh Chaaha
बेवफ़ा तेरा यूँ मुस्कुराना Bewafa Tera Yun Muskurana